ओझा

कुछ समय तक ये नाम चला ( जो छोटे बच्चो को नजर टोकार उतारते है, उन्हें ओझा कहते है ) परन्तु वर्तमान में सभी राजगुरु ही कहते है | ओझा कही भी कहते नही सुना गया | मात्र सांचोर ( जालोर ) में 5 घर है | परन्तु इन्हे पता है की ये राजगुरु है | भावी पीढी को पता नही है जो ओझा ही कहते है | इस जाति / गौत्र का इतिहास / विवरण अगर आपके पास हो तो कृपया हमें 9782288336 नंबर पर व्हाट्स अप्प कर सकते है | धन्यवाद्

Back