सेणपुरा

अजारी से कुछ परिवार सनपुर गाव में आकर बसे व यहा के पूर्व के जमीदारो के साथ अनबन होने के कारण यहा से भी राजगुरु निकले | सनपुर से निकले और अपभ्रंश होते गये और राजगुरु की जगह सणपरा नाम से पहचाने जाने लगे | परन्तु बुजुर्गो व भावी पीढी को पता है की वे हे राजगुरु ! अपने आपकी दोनों नामो से पहचान कराते है | सनपुर में एक सती का स्थान है जिसे स्थानीय बंधुओ के साथ - साथ सभी वर्ग सम्प्रदाय श्रद्धा से नमन् करते है | ( चबूतरे का जीनोद्वार करवाकर मंदिर बनाया गया है | ) ( जानकारी की राव भी पुष्टिं करते है | एवं अजारी में भी जानकारी विध्मान है | ) अगर आपके पास इस जाति / गौत्र का इतिहास / विवरण हो तो कृपया हमें 9782288336 नंबर पर व्हाट्स अप्प करें | धन्यवाद्

Back